Skip to content

ओरमांझी हत्याकांड में आरोपी शेख बेलाल की पहली पत्नी ने मृतक शौतन को लेकर किया बड़ा खुलासा, गुत्थी सुलझाने के करीब पुलिस

Arti Agarwal

झारखंड की राजधानी रांची के ओरमांझी इलाके में स्थित साईं नाथ विश्वविद्यालय के पास जंगल से बरामद की गई सिर कटी लाश के मामले को लेकर पुलिस अब गुत्थी सुलझाने के बेहद ही करीब है. पुलिस ने युवती की हत्या करने वाले मुख्य आरोपी की पहचान कर ली है. साथ ही उसके परिवार वालों से पूछताछ की जा रही है.

Advertisement

ओरमांझी क्षेत्र स्थित साईं नाथ विश्वविद्यालय के पास के जंगल से बरामद की गई सिर कटी लाश एक युवती की थी. जिसकी हत्या उसके ही पति शेख बेलाल नामक ने की है. पहले उस व्यक्ति ने मृतक महिला जो उसकी दूसरी पत्नी थी उसकी गला घोट कर हत्या करने के बाद जंगल में ले जाकर उसके सर को धड़ से अलग कर दिया. जिस युवती की सिर कटी लाश मिली है उसकी पहचान सुफिया प्रवीण के रूप में की गई है. जो मुख्य आरोपी शेख बेलाल की दूसरी पत्नी है. मामले की छानबीन करने पर पुलिस ने युवती के सिर को शेख बेलाल के खेत से बरामद किया है. वही, मौके पर पुलिस ने शेख बिलाल की पहली पत्नी और उसके नाबालिग बेटे को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है.

Also Read: ससुर को खुश करने के लिए भाई ने सगी बहन को भेजा, गर्भवती होने पर हुआ मामले का खुलासा

शेख बेलाल की पहली पत्नी यानी सूफिया परवीन की सौतन ने एक बहुत बड़ा खुलासा किया है. सुफिया प्रवीण की सौतन का दावा है कि मृतक सुफिया प्रवीण का चरित्र ठीक नहीं था. वह लड़कों को फसाती थी और उनके साथ अवैध संबंध भी बनाती थी. वह लोगों को ब्लैकमेल करने के लिए तस्वीरें खिंचवाते थी और रुपए ऐंठने की कोशिश करती थी. सुफिया प्रवीण की शेख बिलाल के साथ यह दूसरी शादी थी. सुफिया के पहले पति से भी पुलिस ने पूछताछ की है. जिसमें इस बात के कई अहम जानकारियां मिली है. आरोपी शेख बेलाल को भी मृतक युवती ने ब्लैकमेल किया था और बात नहीं बनने पर युवती ने पिथोरिया थाने में बेलाल के खिलाफ दहेज प्रताड़ना का आरोप लगाते हुए केस दर्ज भी करवाया था.

पहली पत्नी ने खुलासा करते हुए कहा है कि शेख बेलाल को सच्चाई मालूम होने के बाद वह नफरत की आग में जल रहा था. उसे इस बात का गुस्सा था इसी दौरान शेख बिलाल की 2 जनवरी को पहली पत्नी से किसी बात को लेकर विवाद हुआ था और इसी मौके का फायदा उठाते हुए उसने अपनी पहली पत्नी के साथ मिलकर सुफिया परवीन की हत्या कर दी. युवती की हत्या गला घोंटकर की गई थी. जिसके बाद उसे जंगल लाकर सिर को धड़ से अलग कर दिया गया. साथ ही प्राइवेट पार्ट में भी धारदार हथियार से हमला करने की कोशिश की गई परंतु प्राइवेट पार्ट के बगल में हथियार लगा जिससे वहां की हड्डी और नस कट गई.

Also Read: हैवानियत की शिकार हुई 50 वर्षिय विधवा महिला, सामूहिक दुष्कर्म के बाद प्राइवेट पार्ट में डाला स्टील ग्लास

युवती की हत्या करने के बाद 2 जनवरी की रात तकरीबन 9 से 10 के बीच सूफीया के शव को शेख बेलाल और उसकी पहली पत्नी मोटरसाइकिल पर बैठाकर चंदवे बस्ती से 2 किलोमीटर दूर साईं नाथ विश्वविद्यालय के समीप जंगल में ले गए. आरोपी उस स्थान को बेहतर तरीके से जानता था इसीलिए वह वहां गया था. जंगल ले जाने के बाद युवती के शरीर से सारे कपड़े हटा दिए. जिसके बाद आरोपी ने उसके सिर को धड़ से अलग कर दिया और कपड़ा एवं सिर को लेकर शेख बेलाल और उसकी पत्नी घर आए और बस्ती के पास स्थित अपने खेत में सिर को रात में ही दफना दिया. और उसमें नमक डाल दिया ताकि सिर गल जाए और किसी को कानों-कान खबर भी ना हो.

Advertisement

Leave a Reply

Popular Searches