Skip to content
Advertisement

झारखंड का नया DGP कौन? राज्य सरकार ने UPSC को भेजे है इनके नाम

News Desk

झारखंड में नए डीजीपी को लेकर कवायद तेज हो गयी है. राज्य के पूर्व डीजीपी केएन चौबे को दिल्ली भेजने के बाद एमवी राव को राज्य का कार्यकारी पुलिस महानिदेशक नियुक्त किया गया है. एमवी राव फ़िलहाल झारखंड के डीजीपी है लेकिन फुलटाइम के लिए नहीं, बल्कि वो डीजीपी के प्रभार में है.

Also Read: पत्थलगड़ी मामले में फरार घो​षित पत्थलगड़ी की प्रमुख नेत्री बेलोसा बबीता कच्छप गिरफ्तार

झारखंड डीजीपी के तौर पर एमवी राव की नियुक्ति को लेकर सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल हुई है. याचिका में एमवी राव की नियुक्ति के फैसले को चुनौती दी गयी है. याचिकाकर्ता ने सुप्रीम कोर्ट में एक जनहित याचिका दाखिल कर कहा है कि राज्य पुलिस प्रमुखों के तय कार्यकाल और वरिष्ठता के संबंध में शीर्ष न्यायालय के आदेशों का सरकार ने उल्लंघन किया है.

Also Read: हजारीबाग सेंट जेवियर स्कूल के छात्र पहुँचे हाईकोर्ट, निष्कासन के खिलाफ दायर की गई याचिका

गिरिडीह जिले के निवासी और सामाजिक कार्यकर्ता होने का दावा करने वाले प्रह्लाद नारायण सिंह ने एमवी राव को प्रभारी डीजीपी बनाये जाने के फैसले पर आपत्ति जतायी है. उन्होंने सत्तारूढ़ दल झामुमो के राजनीतिक हितों को संतुष्ट करने के लिए की गयी नियुक्ति करार दिया है. याचिकाकर्ता ने कहा है कि झारखंड कैडर के आइपीएस अधिकारियों में वरीय क्रम में चौथे नंबर पर आने वाले राव पहले से ही महानिदेशक (दमकल सेवा और होमगार्ड) का कार्यभार संभाल रहे हैं.

Also Read: IIT खड़गपुर का दावा घंटे भर में कोरोना टेस्ट का रिजल्ट देगा उनका डिवाइस

कमल नयन चौबे की डीजीपी के तौर पर नियुक्ति के 10 महीने के भीतर ही उनका तबादला कर दिया गया, ताकि एमवी राव को नियुक्त किया जा सके. ऐसा इसलिए हुआ, क्योंकि वह झामुमो सरकार के चहेेते हैं.

हेमंत सोरेन ने पांच अधिकारियों की सूची यूपीएससी (यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन) को भेज दी है. वर्तमान कार्यकारी पुलिस महानिदेशक एमवी राव, एसएन प्रधान, केएन चौबे, नीरज सिन्हा और अजय कुमार सिंह के नाम यूपीएससी को मंजूरी के लिए भेजा गया है. एमवी राव को कार्यकारी पुलिस महानिदेशक बनाये जाने से पहले केएन चौबे प्रदेश के पुलिस महानिदेशक थे.

Advertisement
झारखंड का नया DGP कौन? राज्य सरकार ने UPSC को भेजे है इनके नाम 1